आपका मोटापा कम करने मे कारगर है इंटरमिटेंट फास्टिंग |What Is Intermittent Fasting In Hindi

Intermittent Fasting In Hindi

भारत मे लोग उपवास अनेकों कारणों से रखते है लोग अलग अलग त्योहारो पर उपवास यानी की Fasting रखते हैं और फस्टिंग रखना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक होता है।

आज लोगों मे एक उपवास के तरीका का काफी प्रचलन है जिसका नाम है Intermittent Fasting, उपवास के इस तरीके को आज लोग बड़ी मात्रा मे उपयोग कर रहे हैं।

Intermittent Fasting प्रक्रिया का उपयोग आज सबसे अधिक लोग अपने बढ़े ही वजन को कम करने के लिए कर रहे हैं। इसका आज बड़े बड़े Celebrities (Celebrities Intermittent Fasting) भी अपने आप को फिट रखने के लिए कर रहे है।

What Is Intermittent Fasting In Hindi | इंटरमिटेंट फस्टिंग क्या है?

Intermittent Fasting यह उपवास करने का तरीका है जो काफी अधिक चलन मे है। Intermittent Fasting रखने वाले व्यक्ति को एक निश्चित समय तक कुछ नही खाना होता है। और एक निश्चित समय के उपवास के बाद कुछ खा सकते है और इसे ही Intermittent Fasting कहते है।

Intermittent Fasting मे खाने के निश्चित समय मे व्यक्ति को खाना अपने डाइट प्लान के हिसाब से खाना होता है। इस फस्टिंग का उपयोग आज लोग बड़ी मात्रा मे वजन कम करने के लिए करते है।

Intermittent Fasting करने वाले व्यक्ति खाने के समय कम कैलोरी वाले फूड्स और पेय पदार्थ का सेवन कर सकते है जिसमे वे कम कैलोरी वाले सब्जियां सूप, चाय, कॉफि या नारियल पानी ले सकते है।

Intermittent Fasting

उपवास के 7 अनोखे फायदे

Intermittent Fasting Types In Hindi – इंटरमिटेंट फस्टिंग के प्रकार

1) 16/8 Intermittent Fasting

Intermittent Fastig का यह सबसे चर्चित तरीका है व्यक्ति को 16 घंटो का उपवास रखना होता है और बाकी के 8 घंटो मे वे कुछ Healthy खा सकते हैं यानी यह समय खाने के लिए होता है। कुछ लोगों को अपना नाश्ता स्किप करने मे समस्या होती है तो वे लोग चाय, कॉफि या नारियल पानी ले सकते है। इस बात का ध्यान रखें जिस समय आप भोजन कर रहे है उस समय हेल्थि चीजों का ही सेवन करें।

2) 5/2 Intermittent Fasting

Intermittent Fasting का यह भी एक अच्छा तरीका है इसमे व्यक्ति हफ्ते के पाँच दिन समान्य तौर से खाना खा सकता है और हफ्ते मे दो दिन उपवास रखता है। 2 दिन की फस्टिंग मे 500-600 कैलोरी खा भी सकते है।

3) Alternate Day Fasting

Intermittent Fasting अगर आप शुरू करना चाहते है तो यह सबसे अच्छा तरीका है। इसमे आप हर दूसरे दिन उपवास यानी की व्रत रखना होगा। इस उपवास मे पहले दिन Normal खाना खाये दूसरे दिन व्रत रखें और इसी तरह तीसरे दिन खाएं और चौथे दिन व्रत रखें। यह इटरमिटेंट फस्टिंग का बढ़िया तरीका है इसमे अगर आपको उपवास के दौरान अगर कुछ खाना हो तो या भूख लगे तो 100 कैलोरी तक का कुछ खा सकते है।

4) Worrier Diet

वारियर डाइट यह भी एक इंटरमिटेंट फस्टिंग का प्रकार है जिसमे व्यक्ति को पूरे दिन मे कच्चे फल और सब्जियों का सेवन करना होता है। और इसके साथ एक बार खाना खाया जाता है। उदाहरण के तौर पर, आप सुबह से दोपहर 12 बजे तक फल और सब्जियां खाएं और इसके बाद 4 बजे हेवी मील ले और उसके बाद उपवास रहे।

5) Skip Meals

Intermittent Fasting के इस तरीके मे आपको अपने एक समय के भोजन को स्किप करना होता है। यह आप सप्ताह मे 2 बार, अपने एक समय का भोजन को स्किप कर सकते है।

Intermittent Fasting Benefits In Hindi – इंटरमिटेंट फस्टिंग के फायदे

• इंटरमिटेंट फस्टिंग का सबसे अधिक वजन कम करने मे होता, यह तेजी से वजन कम करने मे सहायता करता है। मोटापा कम होने से आप अनेको बीमारियों से भी बच सकते है।

• हमारा डाइट नियंत्रित होने के कारण हमारा Digestion ठीक रहता है।

• Diabetes के खतरे को भी कम करता है।

• हमारे शरीर मे Aging की प्रक्रिया को भी Slow करता है।

• शरीर का Detoxification करता है और साथ Fat को Burn करता है।

Intermittent Fasting कैसे वजन कम करता है?

इंटरमिटेंट फस्टिंग मे हम लंबे समय तक उपवास रहते है, तो ऐसे मे हमारे शरीर को Energy यानी की ऊर्जा की आवश्यकता होती है। ऐसे मे हमारी बॉडी हमारे शरीर की Extra Fats को Utilize कर हमे ऊर्जा प्रदान करती है। और इस तरह शरीर का Extra Fats शरीर से कम होने लगता है। इसी लिए इंटरमिटेंट फस्टिंग वजन कम करने मे सहायक माना गया है।

Intermittent Fasting In Hindi

Tips For Intermittent Fasting In Hindi

• Intermittent Fasting की शुरुआत करते समय अपने डाइट की प्लानिंग जरूर करे इसके लिए आप डाइट विशेषज्ञ की सहायता ले सकते हैं।

• शरीर मे पानी की कमी न हो इसके लिए पानी या नारियल पानी का सेवन करें।

• कोल्ड ड्रिंक्स या बाजार मे मिलने वाले अन्य ड्रिंक्स का सेवन न करें।

• अपने भोजन मे कम कैलोरी वाले फूड्स को शामिल करें।

• अधिक तले हुए चीजो का सेवन न करें।

When Should Avoid Intermittent Fasting – इंटरमिटेंट फस्टिंग कब नही करना चाहिए?

• अगर आप Pregnant या Breastfeeding महिला हो तो इस Intermittent Fasting को न फॉलो करें।

• अगर आपका वजन कम हो ।

• बच्चे भी यह उपवास न करें।

• अगर आप किसी तरह की बीमारी जैसे Diabetes,Blood Pressure आदि बीमारी हो और आप इनकी दवा ले रहे है तो Intermittent Fasting करने से पहले डॉक्टर की सलाह लें।

Elon Musk Weight Loss Secret

दुनिया मे जाने माने व्यक्ति Elon Musk ने अभी हाल ही मे अपने कम समय मे वजन कम करने के Secret को Twitter के मध्यम से लोगो से सांझा किया।

Elon Musk ने कहा लाइफस्टाइल और डाइट में बदलाव करके आराम से 9 किलो वजन कम किया है। टेस्ला के सीईओ ने ट्विटर पर बताया कि मैंने अपने अच्छे दोस्त की सलाह के बाद पीरियॉडिक फास्टिंग (Fasting Periodically) शुरू की थी और अब मैं खुद को काफी सेहतमंद महसूस कर रहा हूं।

CONCLUSION

उपवास रखना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है इसलिए लोग बहुत पहले से ही उपवास के नियम का पालन करते है। भारत मे अलग अलग त्योहारो पर फस्टिंग किया जाता है इससे हमारे शरीर को अनेकों स्वास्थ्य लाभ होते है। हमारा Digestion अच्छा रहता है, मोटापा नही होता है और भी अन्य प्रकार के फायदे होते है। अगर आप भी मोटापे की परेशानी से परेशान है तो इंटरमिटेंट फस्टिंग (Intermittent Fasting In Hindi) को अपने जीवन शैली मे शामिल कर सकते हैं

और जाने

ऐसे फूड्स जो आपको रखे जवान

Best Immunity Booster Foods

FAQs

इंटरमिटेंट फास्टिंग में क्या खाना चाहिए?

Intermittent Fasting के समय अच्छी मात्रा मे पानी पिये। इस दौरान कम कैलोरी वाली चीजों जैसे कॉफी, हरी सब्जियां, फल और Nuts आप खा सकते है।

इंटरमिटेंट फास्टिंग करना कितना सही है?

Intermittent Fasting करना हमारे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है खासकर उनके लिए फायदेमंद है जिनका वजन काफी बढ़ा हो। मोटापे से ग्रसित लोगो के लिए इंटरमिटेंट फस्टिंग बहुत सही हैं

About Abhishek

Abhishek Is Pharmacy Graduate Who Very Passinate About The Blogging. Hel Love To Gain The Information and Share with The People In Easy Manner. His Hobbies Is Reading Books And Listening Music. Pharmacist By Profession Blogger By Passion Health is Everything.

Check Also

CPR ऐसा मेडिकल टेकनीक् जिससे आप किसी की जान भी बचा सकते हैं

What Is CPR In Hindi / CPR Kya Hai? CPR यह एक इमर्जेंसी मे काम …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Best Healthy Drinks For Winter 5 ORAL CARE TIPS TO KEEP YOUR TEETH HEALTHY AND STRONG 5 AMAZING HEALTH BENEFITS OF KIWI FRUITS Know 5 Apple Cider Vinegar Benefits For Your Health Top 5 Best Memory Booster Foods